Bloggers Mistakes In WordPress Blog or Website In Hindi

Bloggers Mistakes In WordPress Blog or Website In Hindi

Bloggers Mistakes In WordPress Blog or Website In Hindi,

 

नमस्कार दोस्तों,

आप सभी को स्वागत है हमारे इस छोटेसे ब्लॉग में,

 

हर कोई नए ब्लॉगर ब्लॉग्गिंग में कदम तो रख लेते है,

 

लेकिन उनको कुछ चीज़े ध्यान में नहीं आता है,

 

नहीं नहीं में आपको लिखने में कोई गलती उसके जानकारी की बात नहीं कर रहा हूँ,

 

आपके ब्लॉग के वर्डप्रेस के बात कर रहा हूँ,

 

हलाकि इसके साथ blogger.com के कनेक्शन कुछ नहीं है,

 

लेकिन दोस्तों अगर आपके ब्लॉग वर्डप्रेस में है तो ये आर्टिकल आपको काफी काम आ सकता है,

 

कुछ चीज़ें जो हम ब्लॉग बनाते समय या फिर बनाने से पहले या फिर बाद में हमारे ब्लॉग में नहीं करते है,

 

उसके ही कुछ जानकारी यह हम आपको देने वाले है,

 

तो बिना बात बढ़ाये चलिए जान लेते है,

 

Bloggers Mistakes In WordPress Blog or Website In Hindi

 

1 – Offline Development – ऑफलाइन तैयार करना :

 

मैंने कई ब्लॉगर को फॉलो किया मेरे ब्लॉग डेवेलोप करने से पहले लेकिन यकीन माने,

 

कोई वि लिखा नहीं है के आप आपके ब्लॉग सबसे पहले ऑफलाइन बनवाये,

 

सही कहा आपने होस्टिंग खरीदने से पहले आपको आपके ब्लॉग ऑफलाइन बना लेना चाहिए,

 

जब कम्पलीट होता है उसके बाद ही आपके ब्लॉग को लाइव करना चाहिए,

 

उसके लिए आप xampp के इस्तेमाल कर सकते है,

 

हमने हमारे पिछले एक टुटोरिअल में इसके जानकारी दिया है,

 

जिससे आप इहा क्लिक करके पड़ सकते है फ्री में,

 

2 – No SSL – कोई वि SSL नहीं  :

 

SSL जो की हर वेबसाइट को  यूज़  करना चाहिए,

 

चाहे बो छोटे हो या बड़े, अगर कोई वेबसाइट या फिर ब्लॉग ऑनलाइन मनी ट्रांसक्शन के लिए इस्तेमाल होते है,

 

तो जरूर उसमें SSL होनी चाहिए,

 

इसके मदत से स्पैमिंग कम होते है,  और साथ में ये एक ब्लॉग या  फिर वेबसाइट के सिक्योर होने के सिंबल वि होते है,

 

हम जब होस्टिंग खरीदते है तब इस चीज़ के ध्यान नहीं देते है, बाद में WordPress ब्लॉग बना लेने के बाद इसके ख्याल होते है,

 

3 – Backup -:

 

हर नए पुराने साइट में बैकअप के सिस्टम होना चाहिए चाहे बो कौनसी वि होस्ट क्यों न हो,

 

क्यों की दोस्तों  सोचे अगर अपने एक पोस्ट लिख के तैयार रखा, और सोचा दुषरे दिन उससे पब्लिश करेंगे,

 

ऐसे में अगर आपके साइट हैक होते है, तब वि आपके बैक उप डाटा होस्टिंग कंपनी के पास होते है,

 

इसलिए हरदिन के फाइल के लिए अपना बैकअप जरूर करे,

 

4 – Maintenance  Mode:

 

क्या आपको आपके थीम डिज़ाइन कुछ वि पसंद नहीं है ?

 

ऐसे में सोच रहे है साइट में   कुछ बदलाब करने के लिए, तो आपको सबसे पहले अपने साइट में Maintenance  Mode को ऑन करनी चाहिए,

 

उसके लिए आप प्लगिन्स के मदत ले सकते है,

 

क्यों की जब आप कुछ थीम में बदलाब करते है, उसी समय साइट में weekness  ज्यादा होते है,

 

5 – Site Speed – साइट के गति :

 

GTMETRIX.COM  इसके मदत से आप जान पाएंगे आपके वेबसाइट के स्पीड कितना है,

 

वेबसाइट और ब्लॉग के DA के लिए गूगल रैंकिंग के लिए हर साइट के स्पीड आछ्या होना बेहत जरूरी है,

 

और दोस्तों वर्डप्रेस में PHP के कोड्स  ज्यादा होते है, जो तुलनामूलक में स्पीड तो HTML से आछ्या है,

 

पर फिर वि ऑप्टिमाइजेशन के ना  करने पर साइट के स्पीड कम होता है,

 

इसके लिए इससे आपको सही करना जरूरी है,

 

हमने एक आर्टिकल लिखा है, ब्लॉग के स्पीड कैसे बढ़ाते है ?

 

उसके लिए यह क्लिक करे,

 

6 – Permalink Structure :

 

पर्मालिंक जो ब्लॉग के पोस्ट स्ट्रक्चर है,

 

इसके लिए आपको थोड़ा ध्यान रखना होगा,

 

जैस हमारे एक पोस्ट है : https://mydreamblog.in/how-to-create-a-whatsapp-video-status-website-for-free-with-blogger-in-hindi/

 

इसमें हमारे डोमेन सबसे पहले है : https://mydreamblog.in और ठीक उसके बाद इसके पोस्ट है /how-to-create-a-whatsapp-video-status-website-for-free-with-blogger-in-hindi/,

 

ये बहुत  आसान स्ट्रक्चर है, चाहे तो आप आपके यूआरएल उसके बाद केटेगरी उसके बाद पोस्ट के यूआरएल रख पाएंगे,

 

उसके लिए सेंटिंग्स वर्डप्रेस के इनबिल्ट ऑप्शन में ही होते है,

 

उससे आप बदल सकते है,

 

7 – Security – सुरक्षा :

 

वेबसाइट के सिक्योरिटी काफी मायने  रखता है,

 

इसके लिए आपको प्लगिन्स के इस्तेमाल करना चाहिए, जैसे कमैंट्स / यूजर रजिस्ट्रेशन इत्यादि के ध्यान रखना,

 

एडमिन लॉगिन यूआरएल को बदलना ये काफी मायने रखते है ब्लॉग के लिए,

 

8 – Theme Structure – थीम के बनाबट :

 

हर थीम के डिज़ाइन लोगो को आकर्षित करता है,

 

 अपने एक आर्टिकल लिखा और उससे नार्मल तरीके से पोस्ट कर दिए,

 

आपके होम पेज में वो सिर्फ पोस्ट जैसे दिखेगा, लेकिन अगर होमपेज / पोस्ट पेज इत्यादि में साइडबार हैडर इत्यादि आछ्या नहीं हुआ,

 

तो लोग उससे ख़ास पसंद नहीं करेंगे,

 

इसलिए थीम के ख्याल जरूर रखे,

 

9 – No Visitor Tracking – विजिटर को ट्रैक ना करना :

 

अपने एक पोस्ट लिखा और उससे ऐसे ही रख दिए,

 

अब आप अगर ये नहीं जान पाए उसमे कितने विजिटर  आरहे हैं,

 

कौनसी पोस्ट ज्यादा विजिबिलिटी हो रहा है, ऐसेमें आपको साइट रैंक करने के लिए काफी तख़लीफ़ हो सकता है,

 

इसलिए गूगल एनालिटिक्स के इस्तेमाल करे, सेरच कंसोल के इस्तेमाल करे.

 

10 – Site SEO :

 

SEO (सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन)   जो हर एक वेबसाइट ब्लॉग इसके तहत ही रैंक होता है,

 

ये एक ऐसे चीज़ है हो हर नए ब्लॉगर को जानना आबस्यक है,

 

बैकलिंक से लेकर प्रमोटिंग सब कुछ इसके अंदर  आता है,

 

ऐसे तो दोस्तों कोई वि अपनी पूरी ज़िनदगी में इससे पूरी तरह नहीं सिख सकता है,

 

फिर वि आपको शुरू आत में कुछ कुछ चीज़े जानना आबस्यक है,

 

11 – Optimization :

 

 

वेबसाइट में स्पीड के कम  होने का कारन होता है वेबसाइट ठीक से ऑप्टिमाइज़ ना होना,

 

जो की मैंने पहले आपको बताया आपके वेबसाइट में स्पीड अगर कम है तो आप GTMETRIX.COM के इस्तेमाल कर सकते है,

 

और आपके फोटोज /  जावास्क्रिप्ट इत्यादि को आपको ऑप्टिमाइज़ कर लेना चाहिए,

 

क्यों की एहि साइट के स्लो के मुख्य कारन होते है,

 

12 – Sitemap Creation – Sitemap बनाना :

 

SITEMAP जो गूगल के क्रॉलर सिस्टम इंडेक्स करता है,

 

और आपके पोस्ट को इंडेक्सिंग करके उसे सर्च इंजन में शौ करवाता है,

 

इसके लिए आपको WordPress में Sitemap बनवाना बेहत ही जरूरी है,

 

Sitemap कैसे बनाते है, उसके बारेमें जानकारी यह से आप पढ़ सकते है,

 

13 – About Us Page :

 

हर एक वेबसाइट में इसके होना काफी जरूरी होते है,

 

क्यों की दोस्तों अगर अपने एक अच्यासा  पोस्ट लिखा तब रीडर्स को ये जानना काफी आछ्या लगता है  के इस पोस्ट लिखा कौन है ?

 

ऐसे में अगर अपने About Us Page को अच्येसे लिखा होगा तो अपने रैंकिंग काफी आछ्या  हो सकता है,

 

कोशिश करे हर पेज के फुटर में इससे रखना, ताकि यूजर को आसानी से इसे देख जाने मिल जाये,

 

14 – No Caring Of Footer – फुटर के ख्याल ना रखना :

 

फुटर जो की हर एक वेबसाइट में रहना अनिबर्य है,

 

Footer  नहीं मतलब रैंक नहीं, ऐसे ही समझ लीजिये,

 

कोशिश करे आपके ब्लॉग के जानकारी फुटर में देने के लिए,

 

और ज्यादा आछ्या  होता है, अगर अपने फुटर में Sitemap के लिंक वि रखे है तो,

 

हमने एक आर्टिकल लिखा था के फुटर हर ब्लॉग में होना क्यों जरूरी है,

 

उसके जानकारी इहा से आप पढ़ सकते है,

 

15 – User Subscription :

 

ब्लोगे बनाते समय ध्यान रखे आपके ब्लॉग के लिए जेन्युइन सब्सक्राइबर  बेहत जरूरी है, 

 

इसके लिए आप one सिग्नल के इस्तेमाल कर सकते है,  को काफी स्लो कर देता है वेबसाइट को , 

 

इसके लिए बेहतर होगा आप यूजर रजिस्ट्रेशन सिस्टम करे,

 

हम आगे कभी आपको सिखाएंगे कैसे ब्लॉग में यूजर sign  up  सिस्टम करते है आटोमेटिक ईमेल सिस्टम के साथ,

 

 

आपको आजके इस पोस्ट Bloggers Mistakes In WordPress Blog or Website In Hindi कैसे लगा हमें जरूर बताये, 

धन्यवाद 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *