आज से बदल गए हैं आपके जीवन से जुड़े यह 12 नियम, जल्दी जान लीजिए

आज से बदल गए हैं आपके जीवन से जुड़े यह 12 नियम, जल्दी जान लीजिए

आज 1 अप्रैल 2019 यानी सोमवार से नया वित्त वर्ष शुरू हो गया। नए वित्त वर्ष की शुरुआत के साथ ही देश में कई बदलाव होते हैं। इस वित्त वर्ष की शुरुआत के साथ भी देश में कई बदलाव हो गए। इनमें कई बदलाव ऐसे हैं जिनसे आपके जीवन पर सीधे प्रभाव पड़ेगा। इनमें से कई बदलावों से आपका जीवन आसान हो जाएगा तो कई बदलावों से आपको परेशानी का सामना भी करना पड़ सकता है। आइए आपको बताते हैं कुछ ऐसे ही बदलावों के बारे में…
अपने आप ट्रांसफर हो जाएगा पीएफ अकाउंट
1 अप्रैल 2019 से सबसे बड़ा बदलाव नौकरीपेशा लोगों से जुड़ा है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने एक अप्रैल से एक खास बदलाव किया है। इस बदलाव के तहत 1 अप्रैल 2019 के बाद कोई भी कर्मचारी अपनी नौकरी बदलता है तो उसकी पीएफ अकाउंट अपने आप दूसरी कंपनी में ट्रांसफर हो जाएगा। इसके लिए ईपीएफओ में अलग से आवेदन नहीं करना होगा।
महंगे हो जाएंगे नए वाहन
कच्चे माल की लागत में बढ़ोतरी और एक्सटर्नल इकोनॉमिक हालातों को देखते हुए कई वाहन निर्माता कंपनियों ने आपने वाहनों की कीमतों में बढ़ोतरी का ऐलान कर दिया है। वाहनों की कीमतों में यह बढ़ोतरी 1 अप्रैल 2019 से लागू हो जाएगी। टाटा मोटर्स, रेनो, महिंद्रा समेत कई प्रमुख कंपनियों ने अपने वाहनों की कीमतों में बढ़ोतरी की घोषणा की है।
आज से सिर्फ प्रीपेड मीटर लगेंगे
आज यानी एक अप्रैल से एक और बड़ा बदलाव होने जा रहा है, वह है बिजली मीटर का। केंद्रीय ऊर्जा मंत्रालय के अनुसार, 1 अप्रैल के बाद देशभर में बिजली के केवल प्रीपेड मीटर लगेंगे। यह मीटर मोबाइल की तरह काम करेंगे। मतलब, आपको जितनी बिजली चाहिए केवल उतने रुपए का ही रिचार्ज कराना होगा। इससे बिजली बिल में धोखाधड़ी जैसी समस्या पर लगाम लगेगी।
रियल एस्टेट के लिए जीएसटी की नई दरें
1 अप्रैल 2019 से देश में जीएसटी की नई दरें लागू हो जाएंगी। इसके बाद सस्ते घरों पर 1 फीसदी और अंडर कंस्ट्रक्शन घरों पर 5 फीसदी की दर से जीएसटी लागू होगा। यह नई दरें 1 अप्रैल के बाद शुरू होने वाले प्रोजेक्ट्स पर लागू होंगी। जीएसटी काउंसिल ने पहले से चल रहे प्रोजेक्ट्स के लिए बिल्डरों को नई या पुरानी दरों में से एक विकल्प चुनने का समय दिया है। नई दरों के लागू होने के बाद घरों की कीमतों में कमी आने की संभावना जताई जा रही है।

5 लाख तक की आय वालों को नहीं देना होगा टैक्स
इस साल जो सबसे बड़ा बदलाव होने जा रहा है उससे देश के सभी लोग प्रभावित होंगे। केंद्र सरकार की ओर से अंतरिम बजट में की गई घोषणा के अनुसार, वित्त वर्ष 2019-20 में 5 लाख रुपए तक की आय वालों को इनकम टैक्स नहीं देना होगा। हालांकि, सभी प्रकार की बचत को जोड़ लिया जाए तो करीब 10 लाख रुपए की सालाना आय तक वाले भी टैक्स से बच सकते हैं। इसके लिए उन्हें विभिन्न स्कीमों में निवेश करना होगा।

देना और विजया बैंक का बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय
आज से देना बैंक और विजया बैंक का बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय हो जाएगा। इस विलय के बाद इन दोनों बैंकों की सभी शाखाएं बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखाएं बन जाएंगी। इन दोनों बैंकों के ग्राहक भी बैंक ऑफ बड़ौदा के ग्राहक बन जाएंगे। हालांकि, इस विलय के बाद देना बैंक और विजया बैंक के ग्राहकों को नए बैंक के नाम से पासबुक, चेकबुक समेत अन्य सेवाएं लेने के लिए थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

म्यूचुअल फंड निवेशकों को होगी बचत
1 अप्रैल 2019 से म्यूचुअल फंड निवेशकों के लिए भी नया नियम लागू हो रहा है। इस नियम के तहत आज से म्यूचुअल फंड कंपनियां अधिकतम 2.25 एक्सपेंस रेश्यो निवेशकों से वसूल सकेंगी। क्लोज एंडेड स्कीम के लिए ये रेश्यो 1.25 फीसदी तय किया गया है। इसके अलावा 1 अप्रैल 2019 के बाद आप फिजिकल शेयर सर्टिफिकेट को डीमैट नहीं कर पाएंगे। यानी आज से सभी शेयर डीमैट में ही मान्य होंगे।

125CC से ऊपर की बाइक्स में होगा यह बदलाव
दोपहिया वाहन चालकों की सुरक्षा के लिए आज से एक नया नियम शुरू हो रहा है। इस नियम के तहत आज से बेची जाने वाली 125 CC के ऊपर वाली बाइक्स में एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम जरूर होना चाहिए। इसके अलावा 125 CC तक की बाइक्स में कॉम्बी ब्रेक सिस्टम होना चाहिए। इसके लिए बाइक निर्माता कंपनियों को पहले ही निर्देश दिए जा चुके हैं।

पैन कार्ड आधार से लिंक नहीं तो टैक्स रिफंड भी नहीं
यदि आपने अपने पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक नहीं कराया है तो आज से शुरू हो रहे नए वित्त वर्ष में आपको कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसमें सबसे बड़ी परेशानी यह है कि पैन कार्ड के आधार से लिंक नहीं होने पर आप 1 अप्रैल के बाद टैक्स का रिफंड नहीं ले पाएंगे।
5 लाख तक की आय वालों को नहीं देना होगा टैक्स
इस साल जो सबसे बड़ा बदलाव होने जा रहा है उससे देश के सभी लोग प्रभावित होंगे। केंद्र सरकार की ओर से अंतरिम बजट में की गई घोषणा के अनुसार, वित्त वर्ष 2019-20 में 5 लाख रुपए तक की आय वालों को इनकम टैक्स नहीं देना होगा। हालांकि, सभी प्रकार की बचत को जोड़ लिया जाए तो करीब 10 लाख रुपए की सालाना आय तक वाले भी टैक्स से बच सकते हैं। इसके लिए उन्हें विभिन्न स्कीमों में निवेश करना होगा।
देना और विजया बैंक का बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय
आज से देना बैंक और विजया बैंक का बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय हो जाएगा। इस विलय के बाद इन दोनों बैंकों की सभी शाखाएं बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखाएं बन जाएंगी। इन दोनों बैंकों के ग्राहक भी बैंक ऑफ बड़ौदा के ग्राहक बन जाएंगे। हालांकि, इस विलय के बाद देना बैंक और विजया बैंक के ग्राहकों को नए बैंक के नाम से पासबुक, चेकबुक समेत अन्य सेवाएं लेने के लिए थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।
म्यूचुअल फंड निवेशकों को होगी बचत
1 अप्रैल 2019 से म्यूचुअल फंड निवेशकों के लिए भी नया नियम लागू हो रहा है। इस नियम के तहत आज से म्यूचुअल फंड कंपनियां अधिकतम 2.25 एक्सपेंस रेश्यो निवेशकों से वसूल सकेंगी। क्लोज एंडेड स्कीम के लिए ये रेश्यो 1.25 फीसदी तय किया गया है। इसके अलावा 1 अप्रैल 2019 के बाद आप फिजिकल शेयर सर्टिफिकेट को डीमैट नहीं कर पाएंगे। यानी आज से सभी शेयर डीमैट में ही मान्य होंगे।
125 CC से ऊपर की बाइक्स में होगा यह बदलाव
दोपहिया वाहन चालकों की सुरक्षा के लिए आज से एक नया नियम शुरू हो रहा है। इस नियम के तहत आज से बेची जाने वाली 125 CC के ऊपर वाली बाइक्स में एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम जरूर होना चाहिए। इसके अलावा 125 CC तक की बाइक्स में कॉम्बी ब्रेक सिस्टम होना चाहिए। इसके लिए बाइक निर्माता कंपनियों को पहले ही निर्देश दिए जा चुके हैं।

2 पीएनआर को कर पाएंगे लिंक
भारतीय रेलवे ने अपने लाखों यात्रियों के लिए आज से नई सेवा शुरू की है। रेलवे ने आज से 2 पीएनआर लिंक करने की सुविधा प्रदान कर दी है। इस सेवा के तहत यदि आपने कनेक्टिंग यात्रा के लिए दो टिकट बुक की हैं। लेकिन पहली ट्रेन लेट होने के कारण आपकी दूसरी ट्रेन छूट गई है तो रेलवे आपको दूसरी टिकट का पैसा रिफंड कर देगा। इसके लिए आपको दोनों पीएनआर को लिंक कराना होगा।

महंगे हो सकते हैं कोरोनरी स्टेंट
यह साल दिल के मरीजों के लिए महंगा हो सकता है। 1 अप्रैल 2019 से कोरोनरी स्टेंट की कीमतें नए हिसाब से तय होंगी। थोक महंगाई बढ़ने के कारण इनकी दरों में हल्की बढ़ोतरी की संभावना जताई जा रही है।

नए तरीके से तय होगी लोन की दर
1 अप्रैल 2019 से बैंकों को लोन की दर तय करने के लिए नया तरीका अपनाना होगा। आरबीआई के अनुसार, सभी बैंकों को लोन की दरों को एक्सटरनल बैंचमार्क से लिंक करना होगा।

2 पीएनआर को कर पाएंगे लिंक
भारतीय रेलवे ने अपने लाखों यात्रियों के लिए आज से नई सेवा शुरू की है। रेलवे ने आज से 2 पीएनआर लिंक करने की सुविधा प्रदान कर दी है। इस सेवा के तहत यदि आपने कनेक्टिंग यात्रा के लिए दो टिकट बुक की हैं। लेकिन पहली ट्रेन लेट होने के कारण आपकी दूसरी ट्रेन छूट गई है तो रेलवे आपको दूसरी टिकट का पैसा रिफंड कर देगा। इसके लिए आपको दोनों पीएनआर को लिंक कराना होगा।
महंगे हो सकते हैं कोरोनरी स्टेंट
यह साल दिल के मरीजों के लिए महंगा हो सकता है। 1 अप्रैल 2019 से कोरोनरी स्टेंट की कीमतें नए हिसाब से तय होंगी। थोक महंगाई बढ़ने के कारण इनकी दरों में हल्की बढ़ोतरी की संभावना जताई जा रही है।
नए तरीके से तय होगी लोन की दर
1 अप्रैल 2019 से बैंकों को लोन की दर तय करने के लिए नया तरीका अपनाना होगा। आरबीआई के अनुसार, सभी बैंकों को लोन की दरों को एक्सटरनल बैंचमार्क से लिंक करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *