SSY: बिटिया के उज्जवल भविष्य के लिए बेहतर है सुकन्या समृद्धि योजना – क्या है ? इन hindi

SSY: बिटिया के उज्जवल भविष्य के लिए बेहतर है सुकन्या समृद्धि योजना – क्या है ? इन hindi

10 साल से कम उम्र की बच्ची के लिए उच्च शिक्षा और शादी के लिए बचत करने के लिहाज से केंद्र सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) एक अच्छी निवेश योजना है.

जो लोग शेयर बाजार के जोखिम से दूर रहना चाहते हों और फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) में गिरते ब्याज दर से परेशान हों, SSY उनके लिए बेहतरीन कदम साबित हो सकती है.

क्या है SSY?


सुकन्या समृद्धि योजना (एसएसवाई या SSY) बेटियों के लिए केंद्र सरकार की एक छोटी बचत योजना है जिसे बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ स्कीम के तहत लांच किया गया है. ..

साल 2016 -17 में SSY में 9.1 फीसदी की दर से ब्याज दिया जा रहा था जो इनकम टैक्स (Income Tax) छूट के साथ है. इससे पहले इसमें 9.2 फीसदी तक ब्याज भी मिला है.

बहुत कम रकम के साथ खुलने वाला SSY खाता दरअसल उन परिवारों को ध्यान में रखकर शुरू किया गया है जो छोटी-छोटी बचत के जरिये बच्चे की शादी या उच्च शिक्षा के लिए रकम जमा करना चाहते हैं.

 

कैसे खुलवाएं SSY खाता?


सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) के तहत एकाउंट किसी गर्ल चाइल्ड के जन्म लेने के बाद 10 साल से पहले की उम्र में कम से कम 250 रुपये के जमा के साथ खोला जा सकता है. चालू वित्त वर्ष में SSY के तहत अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा कराये जा सकते हैं.

कहां खुलेगा SSY खाता?


सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) के तहत एकाउंट किसी पोस्ट ऑफिस या कमर्शियल ब्रांच की अधिकृत शाखा में खोला जा सकता है.

कब तक चलाना होगा SSY खाता?

SSY खाता खोलने के बाद यह गर्ल चाइल्ड के 21 साल के होने या 18 साल की उम्र के बाद उसकी शादी होने तक चलाया जा सकता है.

SSY में कितनी रकम जरूरी?


SSY एकाउंट खोलने के लिए 250 रुपये काफी हैं, लेकिन बाद में 100 रुपये के गुणक में पैसे जमा कराये जा सकते हैं. किसी एक वित्त वर्ष में कम से कम 250 रुपये जरूर जमा कराया जाना चाहिए. किसी एक वित्त वर्ष में SSY खाते में एक बार या कई बार में 1.5 लाख रुपये से अधिक जमा नहीं कराया जा सकता.

SSY खाते में रकम खाता खोलने के दिन से 15 साल तक जमा कराया जा सकता है. 9 साल की किसी बच्ची के मामले में जब वह 24 साल की हो जाये तब तक रकम जमा कराई जा सकती है. बच्ची के 24 से 30 साल के होने तक जब SSY खाता मैच्योर हो जाये, उसमें जमा रकम पर ब्याज मिलता रहेगा.

 

SSY खाते में रकम जमा कैसे होगी?


SSY खाते में रकम कैश, चेक, डिमांड ड्राफ्ट या किसी ऐसे इंस्ट्रूमेंट से भी जमा कराई जा सकती है जिसे बैंक स्वीकार करता हो. इसके लिए रकम जमा करने वाले का नाम और एकाउंट होल्डर का नाम लिखना जरूरी है.

SSY खाते में रकम इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर मोड से भी की जा सकती है, अगर उस पोस्ट ऑफिस या बैंक में कोर बैंकिंग सिस्टम मौजूद है.
अगर इस तरह का कोई सबूत नहीं दिखाया गया तो SSY अकाउंट ट्रांसफर के लिए पोस्ट ऑफिस या बैंक को 100 रुपये फीस चुकाना पड़ेगा जहां SSY खाता खोला गया है. जिस बैंक या पोस्ट ऑफिस में कोर बैंकिंग सिस्टम की सुविधा है, वहां SSY अकाउंट ट्रांसफर इलेक्टॉनिक तरीके से हो सकता है.

SSY खाते से आंशिक रकम निकासी


अकाउंट होल्डर की वित्तीय जरूरतें पूरी करने के लिए SSY खाते से आंशिक निकासी की जा सकती है, इनमें उच्च शिक्षा और शादी जैसे काम शामिल हैं. इसमें SSY में पिछले वित्त वर्ष के अंत तक जमा रकम का 50 फीसदी निकाला जा सकता है. SSY से यह निकासी तभी संभव है, जब एकाउंट होल्डर 18 साल की उम्र पार कर ले.

SSY अकाउंट से रकम निकालने के लिए एक लिखित आवेदन और किसी शैक्षणिक संस्थान में एडमिशन ऑफर या फीस स्लिप की जरूरत होती है. इन मामलों में हालांकि SSY से निकासी करने वाली रकम फी और दूसरे चार्ज के बराबर ही हो सकती है उससे अधिक नहीं.

SSY एकाउंट मैच्योर कब होगा?


SSY खाता खोलने के दिन से 21 साल पूरा होने या गर्ल चाइल्ड की शादी होने के बाद एकाउंट मैच्योर हो जायेगा.

इसमें SSY हालांकि कुछ शर्तें भी हैं

  • अगर खाताधारक की शादी खाता खोलने के 21 साल पूरे होने से पहले हो जाती है तो खाते में रकम जमा नहीं कराई जा सकती.

    अगर खाता 21 साल पूरा होने से पहले बंद कराया जा रहा है तो खाताधारक को यह एफिडेविट देना पड़ेगा कि खाता बंद करने के समय उसकी उम्र 18 साल से कम नहीं है. मैच्योरिटी के समय पासबुक और विथड्रावल स्लिप पेश करने पर खाताधारक को ब्याज सहित जमा रकम वापस हो जाएगी.

  • SSY के तहत खाता सिर्फ भारतीय नागरिक का खोला जा सकता है, जो यहीं रह रहा हो और मैच्योरिटी के वक्त भी यहीं रह रहा हो. अप्रवासी भारतीय SSY में खाता नहीं खोल सकते.अगर खाता खोलने के बाद गर्ल चाइल्ड किसी और देश में चली जाती है और वहां की नागरिकता ले लेती है तो नागरिकता लेने के दिन से SSY खाते में जमा रकम पर ब्याज मिलना बंद हो जायेगा.

  • स्रोत: यह सूचना वित्त मंत्रालय और रिजर्व बैंक की वेबसाइट से जुटाई गयी है. पाठकों को समझने के लिए इसे आसान भाषा में पेश किया गया है. डिस्क्लेमर: पूरी जानकारी के लिए आप SSYस्कीम बनाने वाली अथॉरिटी से बात कर सकते हैं. SSYकी जानकारी मौजूद नियमों के हिसाब से है, इसमें किसी बदलाव के लिए हमारी जिम्मेदारी नहीं है.

we are not responsible for any lose in finance. we are advicing user to understand the scheme before apply

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *