How To Motivate Yourself For Blogging – Change Your De-Motivated Blog Mind In Hindi

How To Motivate Yourself For Blogging – Change Your De-Motivated Blog Mind In Hindi

How To Motivate Yourself For Blogging – Change Your De-Motivated Blog Mind In Hindi

नमस्कार दोस्तों,

हर नए ब्लॉगर कभी न कभी डिमोटिवेट हो जाते है, अपने ब्लॉग्गिंग के कर्रिएर के शुरू में,

जिसके कुछ वजह होते है, एक कड़बी सच है के हम सभी नए ब्लॉगर जब नए इस फील्ड आते है,

 

हमें जल्द से जल्द कमाने के लिए लालच लग जाता है, और जब देखते है,

के कुछ काम नहीं हो रहा, इससे बांध कर देते है, और कहने लगते है,

 

ब्लॉग्गिंग में कुछ नहीं रखा है, तो क्यों ब्लॉगर ज्यादा डेमोटिवटेड हो जाता है, कैसे इससे मोटीवेट कर सकते है,

इन सभी के जानकारी आपको देने के लिए आजके हमारे आर्टिकल आपके लिए हम लेकर आये है,

बिना बाते बढ़ाये चलिए जान लेते है,

 

How To Motivate Yourself For Blogging – Change Your De-Motivated Blog Mind In Hindi

 

१ – कम्पटीशन है फिर वि कैसे रैंक करे न सोचे ? Don’t Think There Is Enough Competition Than How To Rank ?

 

अब दोस्तों आसान सब्द से आपको हम समझाते है, अगर अपने एक सब्जी के दुकान खोले है, जहाँ और वि कई सरे सेलर सब्जी बेच रहे होते है,

अगर अपने कुछ ऐसे आछ्या सब्जी जो किसी और न बेच रहा होता है,

 

या फिर आपके सब्जी फ्रेश है, दिखने में आछ्या है,

तब लोग आपसे ही इससे खरीदेंगे,

 

ठीक वैसे ही, अगर आपके लिखने का अंदाज़ टॉपिक जेन्युइन है,

आछ्या है तो यूजर जरूर इसे पसंद करेंगे, चाहे शामे टॉपिक में पहले से क्यों न लिखा गया हुआ हो,

 

How To Motivate Yourself For Blogging – Change Your De-Motivated Blog Mind In Hindi

 

२ – सोचे आपके ब्लॉग्गिंग के कारन  – Think Reason Of Your Blogging :

 

अपने पहले ब्लॉग बना लिया होगा कुछ सोचकर जैसे मुझे कमाने का है, यह ध्यान में रखकर अपने शुरू किया,

लेकिन जब देखे के कुछ काम नहीं बन रहा इससे करना आप छोड़ दे रहे है,

 

अब दोस्तों यह वि हम आसान सा सब्द से आपको समझाते है, गलत मत समझे आप किसीको काफी पसंद करते है,

और सोच रहे के उनसे शादी के बारेमें, लेकिन कुछ वि करके सामने वाला आपको भाव नहीं दे रहा,

 

तो आप हाल नहीं छोड़ते है, तो फिर ब्लॉग्गिंग क्यों छोड़ देंगे,

संदीप माहेश्वरी जी जिन्होंने काफी कुछ खोकर हर नहीं मने और आज एक सक्सेस्फुल मोटिवेशनल स्पीकर बिज़नेस मेन है,

 

तो अगर उन सख्स को काम्यापि मिली है, तो आपको क्यों नहीं मिलेगा,

अब अगर इनकम ब्लॉग्गिंग से न हो, तो गलती आपके है,

अपने कुछ तो गलती इसमें जरूर कर रहे, जो आपको नहीं करनी चाहिए,

 

 

३ – अपनी अर्निंग बार बार न देखे – Don’t See Your Earning All Time :

 

आज मुझे ०.०० कमाई हुआ है, तो क्या मुझे कोई दुःख नहीं है, आखिर दुःख होगा क्यों, क्या मैंने ब्लॉग्गिंग में करोड़ रुपये इन्वेस्ट किया है,

नहीं तो अगर करोड़ इन्वेस्ट किया नहीं, तो दुःख क्यों है,

 

आज नहीं है कमाई कल होगा, परसो होगा, ५ साल के बाद होगा,

लेकिन दोस्तों होगा जरूर, इसलिए हरदिन कमाई कितना हुआ ब्लॉग से न देखें,

 

कई youtuber है जो कहते है में सुभे उठता हूँ मेरे अर्निंग पहले देखता हूँ, फिर लिखना शुरू करता हूँ,

लेकिन दोस्तों उन सब पुराने ब्लॉगर है, इसलिए बो लोग ऐसे करते है,

 

वजह कमाई हरदिन से ज्यादा हो रहा की नहीं, लेकिन अगर आप नए है, तो आपको ऐसे नहीं करनी है,

 

How To Motivate Yourself For Blogging – Change Your De-Motivated Blog Mind In Hindi

 

४ – देखें विजिटर के द्वारा दिया गया कमैंट्स  – See Visitor Comments :

 

ये काफी मोटीवेट करता है लिखने के लिए.

अगर आपको ऐसे कभी लगता है के ब्लॉग्गिंग मैं कुछ फायदा नहीं हो रहा,

 

और आपको शायद ब्लॉग लिखना बंध कर देना चाहिए,

तब ऐसे सिचुएशन मैं आप आपके साइट में पहले विजिटर द्वारा दिया गया कमैंट्स को आप पड़े,

इससे आपको मोतीवाशब मिल सकता है,

How To Motivate Yourself For Blogging – Change Your De-Motivated Blog Mind In Hindi

५ – उन ब्लॉगर से कनेक्ट न रहे जो डेमोटिवटेड हो – Don’t Contact De-Motivated Blogger :

 

मैंने ऐसे कई ब्लॉगर से मिला हूँ पर्सनली और कॉल्स के जरिये, जो काफी आछ्या  करते है,

लेकिन सिर्फ आपको डिमोटिवेट के लिए, हमेशा कहते होंगे,

 

के कुछ फायदा नहीं कुछ नहीं बन रहा, कुछ मतलब नहीं, छोड़ दूंगा  इत्यादि,

आपको ऐसे डेमोटिवटेड ब्लॉगर से दुरी बने रखना है, क्यों की दोस्तों ये एक बिज़नेस है,

 

ज्यादातर लोग ये चाहते है, के उनके कम्पेटिटोर न रहे,

इसलिए उन ब्लॉगर ऐसे कहते है,

 

६ – लिखे खुदके लिए – Write For Own :

 

पैशन के लिए लिखना शुरू करे, कमाई बो तो होता रहेगा,

सबसे पहले अपने ब्लॉग में लिखे बो वि तब तक जब तक साइट में आपके १०० विजिटर हर दिन के न हो,

 

मैंने ऐसे कई ब्लॉगर देखे है, जो हर वक़्त गेस्ट पोस्ट देने में बिजी है,

देखें ऑडियंस बनाना अच्यी बात तो है, लेकिन सबसे पहले लिखे खुदके लिए,

 

अपने ब्लॉग में, जब साइट २ से ३ साल के हो जाये तब गेस्ट पोस्ट दे दूसरे साइट में,

इससे आपको फायदा होगा,

How To Motivate Yourself For Blogging – Change Your De-Motivated Blog Mind In Hindi

७ – सोचे प्राइवेट नौकरी के नुकसान को -Think Disadvantages Of Private Job :

 

में खुद नौकरी करता हूँ, और ब्लॉग्गिंग वि, लेकिन में हमेशा कंप्यूटर में बैठना नहीं पसंद करता,

इसलिए में प्राइवेट जॉब वि करता हूँ,

 

दोस्तों प्राइवेट जब सबसे बेकार होता है, अगर आप करते होंगे तो शायद आप वि जानते होंगे,

इसलिए खुदके boss बने, प्राइवेट नौकरी न करे, ब्लॉग्गिंग बांध न करे, काम्यापि जल्दी आपको मिल जाएगा,

How To Motivate Yourself For Blogging - Change Your De-Motivated Blog Mind In Hindi
How To Motivate Yourself For Blogging – Change Your De-Motivated Blog Mind In Hindi

८ – सोचे आप पॉपुलर हो जायेंगे – Think You Will Be Popular :

 

क्या होगा, अगर आपके परिबार वाले आपको घर में स्वागत करे,

क्या होगा आपके चारो तरफ काफी लोग आपके चाहने वाले आपके आसपास आपसे मिले,

 

जी बिलकुल आपको पॉपुलर होने से कोई नहीं रोक सत्ता अगर आप डिमोटिवेट न हुआ तो,

इसलिए पॉपुलैरिटी के लिए इससे बांध न करे,

 

९ – ना देखें अपने रैंक हर वक़्त – Don’t Look Your Rank All Time :

 

हर वक़्त एनालिटिक्स को न देखे, या डिमोटिवेट कर सकता है ब्लॉगर को,

क्यों की दोस्तों बाउंस रेट यूजर सेशन इत्यादि इसके लिए एहम भूमिका निवाती है,

 

बो यूजर  विस्टिंग समय के ऊपर निर्वर करती है,

कभी येर काम और कवी ज्यादा होती है,  बार न  देखे,

 

१० – मन में रखे ये एक बिज़नेस है  -Thin Its A Business :

 

दोस्तों ब्लॉग्गिंग एक ऐसे बिज़नेस है जो आपको ज़िन्दगी  दे सकता है, 

इसलिए इससे सोचे ऐसे के या आप बिज़नेस कर रहे,

 

जो आपको भबिस्य में लाखो में कामके देने वाला है, 

ऐसे ही काम करे और आगे बढ़ते रहे, 

 

Play Free Game Click Here 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *