Internal Link – Internal Linking SEO In Hindi – Internal Linking Kya Hai ?

Internal Link – Internal Linking SEO In Hindi – Internal Linking Kya Hai ?

Internal Link – Internal Linking SEO In Hindi – Internal Linking Kya Hai ?

 

नमस्कार दोस्तों,

हमारे आजके टॉपिक है इंटरनल लिंकिंग, जिसके बारेमें हम बिस्तर से जानेंगे,

Internal Link – Internal Linking SEO In Hindi – Internal Linking Kya Hai ?

आपको आज जानने के लिए मिलेगा

 

What Is Internal Linking SEO ? इंटरनल लिंकिंग SEO क्या है ?

 

आजके तारीख में, हर एक नए ब्लॉगर के लिए SEO के बारेमें सभी जानकारी रखना काफी मुश्किल होते है,

और search इंजन के plagarism वी काफ़ी changes होता रहता है,

 

कई ब्लॉगर कई सारे पोस्ट्स करते है, ऐसे में जब हम एक पोस्ट डालते है तब ये पोस्ट नए होते है,

सर्च इंजन इसे ठीक से इंडेक्स नेही कर पाता है, तब INTERNAL LINKING के मदत से आप जल्द उस पोस्ट को इंडेक्स कर सकते है,

 

अगर आसान सब्द में कहा जाये तो ये एक पोस्ट लिंक को दुषरे पोस्ट्स के साथ जोड़ना है,

अब इससे हम आगे चलके आसानी समझ लेंगे, हमने आपके लिए वर्डप्रेस और ब्लॉगर दोनों में कैसे इंटरनल लिंकिंग करते है, उसके जानकारी दे देंगे, इसलिए पोस्ट को पहले पूरा पढ़ लें,

 

Why Internal Linking SEO Is Important ? क्यों internal लिंक SEO के liye इम्पोर्टेन्ट है ?

 

1 : It Helps To Increase Page Views – ये पेज व्यू बढ़ाने मैं मदत करता है :

 

आसान शब्द मैं इससे samajhte है, अगर आपने ek पोस्ट लिखा है कैसे Mango जूस बनाते है,

एक और पोस्ट लिखा है सबसे अच्या mangoes कौनसी है,

 

जब कोई बेक्ति उस पोस्ट को “Mango जूस kaise बनाते है पढनेके लिए आयेगा” अगर उस पोस्ट मैं आपने सबसे अच्या “mangoes कौनसी hai” उस पोस्ट के link दिए हुए होंगे,

जब कोई विजिटर आपके साइट विजिट करेगा “mangoes जूस कैसे बनाते है” इस पोस्ट मैं तब jaroor वो दुशरे पोस्ट “सबसे अच्या mangoes kaunsa है” उस लिंक के मदत से इस आर्टिकल वी पड़ लेगा,

 

और इस तरह से आपके पेज व्यूज बढ़ेगा,

 

2: It Increase Your Revenue – आपके अर्निंग बढ़ने में मदत करता है :

 

अब अगर कोई एक विजिटर internal लिंकिन के कारण दो से तीन पोस्ट्स पड़ लेंगे तब जाहिर सी baat है आपके एड्स के कारण revenue बढ़ने lag जायेगा,

 

3: Easily Navigate Users – आसानी से यूजर को नेविगेट कर सकता है :

 

Breadcrumbs अगर आपने इस्तेमाल कर रहे,

तब internal linking के कारण आपके users को ये पता चल जाता है,

 

के कौनसे केटेगरी मैं फिलहाल वो वह है, और इंटरनल लिंकिंग यूजर को  एक्सपीरियंस प्रोवाइड करता है,

 

4: It Easily Help Search Engine To Crawl Your Site – सर्च इंजन को आसानी से आपके साइट को क्रॉल के लिए मदत करता है :

 

जब आपके कोई पोस्ट में ट्रैफिक आछ्या है, तब उसमे अगर अपने कोई और पोस्ट के लिंक दिया होगा,

तब गूगल क्रॉलिंग आपके उस फेमस पोस्ट के साथ साथ इंटरनल लिंकिंग किया हुआ पोस्ट वि, आसानी से इंडेक्स कर लेता है,

 

5: De-Crease Bounce Rate – बाउंस रेट कम करता है :

 

हमने पहले वाले कॉलम में बताया internal linking के मदत से, आपके पेज व्यूज बढ़ते है,

ऐसे में बाउंस रेट अपने आप कम होता है, जो आपके रेवेन्यु बढ़ने में मदत करता है,

 

Internal Link – Internal Linking SEO In Hindi – Internal Linking Kya Hai ?

 

How To Do Internal Linking With Blogger ? The Easiest Best Way, कैसे ब्लॉगर में इंटरनल लिंकिंग करते है ? सबसे आसान तरीका:

 

सबसे पहले आप जिसवी पोस्ट को पब्लिश करेंगे उसमे उस सब्द को लिखे , जैसे मैंने लिखा “THIS IS INTERNAL LINK”

जैसे आप निचे के तस्बीर में देख रहे है, इसमें टेक्स्ट को पूरा सेलेक्ट करना है, और जिस वि पोस्ट को आप लिंक करना चाहते है,

 

उसके URL को लिंक में क्लिक करके पेस्ट कर दें, और आपके एक इंटरनल लिंकिंग हो गया,

 

Internal Link - Internal Linking SEO In Hindi - Internal Linking Kya Hai ?
Internal Link – Internal Linking SEO In Hindi – Internal Linking Kya Hai ?

 

अब तो आप ब्लॉगर में इंटरनल लिंकिंग समझ चुके होंगे, अब वर्डप्रेस में कैसे करे जान लेते है,

 

 

How To Do Internal Linking With WordPress ? The Easiest Best Way, कैसे वर्डप्रेस में इंटरनल लिंकिंग करते है, सबसे आसान तरीका:

 

जैसे ही ब्लॉगर में हमने एक आर्टिकल लिखा उहा मेंशन किया “THIS IS INTERNAL LINK”

ठीक वैसे ही इहा वि लिख रहे है,

Internal Link - Internal Linking SEO In Hindi - Internal Linking Kya Hai ?
Internal Link – Internal Linking SEO In Hindi – Internal Linking Kya Hai ?

उसके पहले जिस वि पोस्ट  के लिंक देना छह रहे उसके URL को कॉपी कर लें,

 

 

उसके बाद उसके बारेमें थोड़ा लिख दे, जहा आपको इसके यूआरएल देना है,

फिर उस टेस्ट को सेलेक्ट करके उहा आप चैन  जैसे आइकॉन देख रहे है, उसमें क्लिक करना है,

 

और आपके यूआरएल डालना है,

और आपके इंटरनल लिंकिंग हो गया,

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *