Why New Bloggers Fail In Hindi

Why New Bloggers Fail In Hindi

दोस्तों आजके हमारे टॉपिक है “Why New Bloggers Fail In Hindi”  “क्यों नए ब्लॉगर बेर्थ हो जाते है ब्लॉग्गिंग में”,

 

आज इस पोस्ट में हम आपसे शेयर  करने वाले है,

 

क्यों नए ब्लॉगर फ़ैल हो जाते है ब्लॉग्गिंग कर्रिएर में ?

 

 

खराप कंटेंट – Bad Quality Content :

 

आपको बता दें, एक कहाबत है “CONTENT IS THE KING OF BLOG”, 

 

ऐसे में हम सबसे पहले ब्लॉग्गिंग शुरू कर दो देते हैं, लेकिन ये भूल जाते है कंटेंट में क्वालिटी अच्यी नहीं है,

 

इसमें  लिख तो देते है बहुत सारे पोस्ट लेकिन उसके “Brief Description” नहीं देते है,

 

जैसे अपने लिखा मंगलौर में घूमने के लिए कुछ बेहतर जगह लेकिन अपने सिर्फ जगह के नाम दे दिए,

 

और वह क्या ख़ास जगह है ? क्यों आछ्या  है यह नहीं लिखा,

 

ऐसे में आपके विजिटर LOSS के चान्सेस ज्यादा हो जाते है,

 

 

वेबसाइट के SEO पे ध्यान न देना – Ignoring Website SEO :

 

SEO जिसे शार्ट फॉर्म में बोलै जाता है,

 

उसे फुल फॉर्म में बोलते है सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (Search Engine Optimization),

 

दोस्तों बिना SEO के अगर आप वेबसाइट पे ब्लॉग्गिंग करते है ऐसे में सिर्फ आपके म्हणत में पानी फिर जायेगा,

 

और आप ब्लॉग्गिंग छोड़  देंगे,

 

तो सबसे पहले आपको SEO अच्यी तरह से सिख लेना है, फिर पोस्ट लिखना शुरू करना है,

 

 

बैकलिंक ना बनाना – not creating backlinks :

 

दोस्तों बैकलिंक जो की seo के ही एक हिस्सा है, ऐसे में हम इसे नहीं करते है, रेफेरल नहीं बनाते है,

 

जिससे होता है आपको ब्लॉग ट्रैफिक के बिना चलता है,

 

और आप ब्लॉग्गिंग छोड़ देते है, जैसे हमने बैकलिंक लेते है हमारे वेबसाइट SovanIndiaBlog से,

 

हम ऐसे चीज़ो का ख्याल नहीं करते है, और ब्लॉग्गिंग बन्ध  कर देते है,

 

 

दोस्तों हमारे इस टॉपिक में “Why New Bloggers Fail In Hindi” 

कंटेंट थोड़ी लम्बी होने वाली है लेकिन अगर पूरा आप पड़ेंगे आप काम्याप हो सकते है, 

 

 

पोस्ट  के साथ बिना जरूरत के सब्द – words without need with post :

 

हम अक्सर ये गलती करते है एक पोस्ट लिखते वक्त्त ऐसे सब्दो का इस्तेमाल करते है,

 

जिसका उस पोस्ट के अंदर जरूरत नहीं है,

 

ऐसे में रीडर को आपके पोस्ट से ध्यान दुश्री तरफ जाता है, और वह पोस्ट पूरी नहीं देखते है,

 

ऐसे में विजिटर लोस्स के चान्सेस होते है, 

 

 

कमाने की लालच – Greed to earn :

 

दोस्तों एक कहाबत है जो शायद आप जानते होंगे “लालच बुरी बाला है”

और आप बुरा मत मन्ना एहि चीज़ हर फ़ैल ब्लॉगर फ़ैल के कारन बन जाता है, 

 

के आर्टिकल में आपको हमने बताया लोग जल्दी बड़ा होना चाहते है,

 

लेकिन जब देखते है के पैसे नहीं मिल रहे वह इस काम को छोड़ देते है,

 

 

ब्लॉग डिजाइन की अनदेखी – Ignoring Blog Design :

 

डिज़ाइन आपके वेबसाइट विजिटर को ध्यान खींचते है,

 

जैसे मैंने एक पोस्ट लिखा है “मूवी डाउनलोड के लिए कुछ आछ्या वेबसाइट क्या है”,

 

इसमें एक वेबसाइट है जो मुझे बेहत पसंद है,

 

ऐसे में अगर डिज़ाइन आप अच्यी बनाते है विजिटर को ये बहुत पसंद अत है,

 

वह सख्स वापस आपके ब्लॉग पे जरूर आएंगे पोस्ट्स देखने के लिए,

 

 

काम से ज्यादा समय बर्बाद करना अलग साइट पे – Wasting time on other sites :

 

दोस्तों बैकलिंक बना अच्यी बात है,

 

लेकिन उसके लिए दुश्री वेबसाइट पे इफ़ेक्ट दिखता है,

 

जैसे आप दुश्री साइट पे ज्यादा समय बिताएंगे तो आप लिखने में दिल नहीं लगाएंगे,

 

ऐसे में आपको प्रॉब्लम होगा,

 

और आप फ़ैल हो जाते  है,

“Why New Bloggers Fail In Hindi”

 

 

नए आगंतुक पानेका कोशिश न करना – Not Try To Get New Visitor :

 

दोस्तों ऐसे वि होते है हम सिर्फ रेफेरल से ही वेबसाइट पे ट्रैफिक लाना चाहते है,

 

जिसके वजह से आपके साइट धीरे धीरे रैंकिंग काम होती जाती है,

 

इसके वजह से आपको मन नहीं करता है और आप ब्लॉग्गिंग छोड़ देते है,

 

ऐसे में आपको मई कहूंगा गूगल या फिर अन्य सेरच इंजन से ट्रैफिक लानेका कोशिश करे,

 

 

आप एक गेट-रिच-क्विक रणनीति की तलाश कर रहे हैं – You are Looking for a Get-Rich-Quick Strategy:

 

नए ब्लॉगर ब्लॉग शुरू करते ही जल्द से जल्द बड़े बन जाना चाहते है,

 

जो बिलकुल फ़ैल के केटेगरी में एते है,

 

ऐसे वि मैंने ब्लॉगर को देखा है जो ब्लॉग्गिंग के अंदर ऑटो गए लेकिन जल्द से जल्द काम्यापि न मिलने के कारन ब्लॉग्गिंग छोड़ दिए है,

 

दोस्तों ये एक ऐसे वर्क फील्ड है जो आपके लाइफ में हमेशा काम देता रहेगा,

 

बहुत काम ब्लॉगर जानते है और फ़ैल हो जाते है,

 

 

आत्म संवर्धन के लिए व्यस्त – Busy For Self Promotion :

 

आप ब्लॉग्गिंग काम और खुदके ब्लॉग को प्रमोट करने में बिजी है,

 

ऐसे में काम्यापि में आपको ० मार्क्स मिलने वाला है,

 

नहीं समझे मई आपको बता देता हूँ,

 

जैसे आप एक ब्लॉग पे पोस्ट लिख रहे है उसके अंदर आप बार बार आपके ब्लॉग के नाम इस्तेमाल कर रहे,ये बहुत खराप इम्पैक्ट करता है ब्लॉग्गिंग पे,

 

 

 

काम पे धैर्य न होना – No patience at work :

 

नए ब्लॉगर ब्लॉग शुरू करते ही जल्द से जल्द बड़े बन जाना चाहते है,

 

जो बिलकुल फ़ैल के केटेगरी में एते है,

 

ऐसे वि मैंने ब्लॉगर को देखा है जो ब्लॉग्गिंग के अंदर आजाते है और फ़ैल हो जाते है,

 

तो दोस्तों आपको इस पोस्ट आपको कैसे लगा कमेंट करके हमें जरूर बताये, 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ऐसे ही और आछ्या कूल पोस्ट पड़ने के लिए सब्सक्राइब करे

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.